लण्ड मोटा मेरी चूत में घोंटा

Sex Stories Hindi Me Ek Aur Female Writer Dhara Ki Kahani…
लेखिका – धरा
हेलो दोस्तो.
मेरा नाम धरा.
मैं 38 साल की हूँ और मैं गाँधीनगर में रहती हूँ.
ये हादसा, मेरे साथ दिसम्बर 2015 में हुआ.
पहले, मैं मेरे बारे में बता दूं.
मैं बहुत सेक्सी औरत हूँ और मेरा फिगर 36-30-38 है.
मेरे हसबैंड अमेरिका में रहते है और मुझे भी 24 दिसम्बर को अमेरिका जाना था.
मस्त कहानियाँ हैं, मेरी सेक्स स्टोरी डॉट कॉम पर !!! !!
मेरे कोई बच्चे नहीं है.
मेरी एक फ्रेंड अरेरा में रहती है और एक कोहेफ़िज़ा में रहती है तो मैंने सोचा की में अमेरिका जाने से पहले, आपनी फ्रेंड को मिल कर आ जाउ.
तो मैंने बस पकड़ी और अरेरा गई. मैंने आपनी फ्रेंड को फोन करके बता दिया की मैं आ रही हूँ.
मैं वहाँ सुबह 10 बजे पहुँची तो मेरी फ्रेंड मुझे लेने के लिए कार लेकर आई, फिर मैं और वो हम उसके घर गये.
फिर घर जाते ही, मैंने उसके लड़के को देखा.
ओह माय गॉड, बहुत ही हॅंडसम.
मेरा उसके साथ परिचय हुआ और पता चला की वो कॉलेज करता है.
फिर मैंने लंच लिया 12 बजे.
मेरी फ्रेंड क हसबैंड जॉब पर गये थे तो मैंने और उसने बहुत बाते की.
फिर शाम को सोचा की चलो, कोहेफ़िज़ा में एक फ्रेंड रहती है तो उससे मिल कर आते है.
मैंने कार ड्राइव कर ली और कोहेफ़िज़ा जा कर आए तो रात को बहुत अंधेरा हो गया था.
मैंने अपनी फ्रेंड को कहा – मुझे कोई अपने घर तक छोड़ सकता है, गाँधीनगर तक.
तो फिर मेरी फ्रेंड ने कहा की मेरा बेटा तुझे छोड़ जाएगा, घर तक.
फिर मैं और मेरी फ्रेंड का बेटा निकल गये.
तो रास्ते में उसने मुझसे बाते करना शुरू कर लिया, बातों – बातों में उसने कहा की आंटी आप बहुत सेक्सी लग रही हो.
बाप रे, ये शब्द सुन कर तो पहले मुझे कुछ आजीब लगा पर बाद में अच्छा लगा.
तो मैंने पूछा की कितनी सेक्सी लगती हूँ मैं.
उसने कहा – वो तो आंटी चेक करना पड़ता है.
मैंने कहा – चल कर, चेक.
तो वो बोला – अभी नहीं हो सकता.
मैंने कहा – तो कब.
वो बाला – घर जा कर.
फिर उतने में घर आ गया और हम घर में चले गये तब 10 बजे थे.
मैंने कहा – चलो आओ, पानी पी कर जाओ.
तो वो मान गया. मैंने उसे सोफे पर बिठाया और पूछा – तू चेक करने वाला था मेरी सेक्सी लेवेल.
वो बोला – मैं तो ऐसे ही कह रहा था.
मैंने कहा – आरे बेटा कर ना ज़रा चेक ऐसा क्या करता है तू अपनी सेक्सी आंटी का इतना भी मन नहीं रखेगा.
फिर वो बोला – आप अपनी आखें बंद करो.. तो मैं मान गई.
फिर उसने मेरे पेट पर हाथ फेरना शुरू कर दिया. फिर वो धीरे धीरे मेरी गांड पर हाथ लगाया.
क्या बताऊँ कितना सेक्सी टच था.
फिर उसने एक हाथ से मेरे दूध भी दबा दिए.
मैं और वो हम दोनों गरम हो रहे थे.
उतने में मेरी फ्रेंड का फोन आया की हम पहुँचे या नहीं.
तो मैंने बता दिया की पहुँच गये है, पर तुम्हारा बेटा, कल सुबह आ जाएगा क्यूकी गाड़ी का पंक्चर हो गया है तो उसने अपने बेटे से बात करी और कहा की आज की रात आंटी के घर रुक जा कल सुबह आ जाना गाड़ी, ठीक करवा के.
फिर क्या फिर हम दोनों खुश हो गये और उसने मुझे उठा लिया और बेडरूम में ले गया, फिर हम दोनों ने अपने कपड़े निकाल दिए और मैं उसके लंड को मुँह में लेकर चूसने लगी.
क्या मज़ा आ रहा था.
फिर उतने में मेरी एक सहेली का फोन आया की वो आ रही है मुझे मिलने के लिए कोहेफ़िज़ा से, पर वो भी सेक्स की भूखी थी.
फिर वो मेरी चूत को चाटने लगा, मैं 3 मिनिट में झड़ गई.
फिर उसने मेरे दूध दबाना शुरू कर लिया और उंगली चूत में डालने लगा और फिर उसने एक झटके में पूरा लंड मेरी प्यासी चूत में डाल दिया औट धना – धन चोद्ने लगा.
उतने में वो भी 10 मिनिट में झड़ गया.
उतने में डोर बेल बजी मैंने गाउन पहना और दरवाज़ा खोला तो मेरी सहेली आई थी. मैंने उसे मिलवा कर इशारे में समझा दिया की ये भी हमारी लाइन का इंसान है.
तो फिर वो बोली – तो मैं ट्राइ करू क्या.
मैंने कहा – बिल्कुल क्यू नहीं.
फिर मेरी सहेली और वो, दोनों रूम में गये. फिर, में भी थोड़ी देर बाद गई तो वो दोनों एक दूसरे को किस कर रहे थे और कपड़े निकाल रहे थे.
फिर मैंने हेल्प करी मेरी सहेली की साड़ी को हटाने में और ब्रा पेंटी निकल दी.
फिर क्या, वो दोनों 69 की पोज़िशन में आ गये और एक दुसरे के बदन को चूस रहे थे. फिर दोनों झड़ गये और फिर मेरी सहेली ने कहा – मुझे तड़पाओ मत, जल्दी से मेरी चूत को चाटो.
उसकी चूत टाइट थी तो, लड़के के 2-3 धक्के लगाने पर पूरा लंड चला गया.
और वो चिल्लाने लगी – कितना बड़ा है, सहा भी नहीं जाता.
पर वो कहा रुकने वाला था.
उसने उसे दो बार चोदा और फिर कुतिया बना कर, उसकी गांड में भी लॅंड डाल दिया और वो रोने लगी, पर साथ में मज़ा भी ले रही थी.
फिर दोनों शांत हो गये और थोड़ी देर बाद वो आपना फोन नंबर दे कर गई उस लड़के के लिए.
मेरी सहेली के जाने के बाद फिर मैं नगी हो गई, तब 11:30 बज रहे थे और ठंडी बहुत थी.
मेरे हसबैंड तो टूर पर गये थे तो कोई दिक्कत नहीं थी.
फिर हम दोनों ने बहुत चुदाई करी उस रात.
उसने मेरी गांड पर तेल लगाया और गांड भी मारी.
उस रात उसने मुझे इतना चोदा इतना चोदा की पूछो मत.
सुबह होते ही वो उठ गया और मेरे पैर सहलाने लगा.
मुझे पता चल गया की शो शुरू करना पड़ेगा तो मैं भी आपनी गांड उछाल – उछाल के चुद्वाने लगी और 1 घंटा चुदाई करने के बाद वो अपने घर जाने के लिए निकल गया.
थोड़े दिन बाद में, मैं भी यूस चली गई.
पर वो आज भी मेरी फ्रेंड से सेक्स करता है, अरेरा में.
Sex Stories Hindi Ki Ye Kahani Aapko Kaisi Lagi… Apni Msst Kamini Ko Jarur Bataye…

लिंक शेयर करें

Related Posts

bhabhi ki story in hindidadi maa ki kahaniyakamuk hindi kathahinde sax storisuhagraat ka mazabehan ki chootgand mari hindi storyhindi desi khaniyahindi ses storyindian sexstoriesसेक्सी लव स्टोरीmast chudai ki kahanibhabhi dewar sexsexi hinde kahanihindi lesbian kahanihindi long sex kahanihindi gandi sex storybhai bahan ki chudai hindilove with sex storycudai ki storiromantic kahani hindi mehende sex khanepehla sexguy sex story hindi meinkahani bur kihindi sexy storeyromantic chudaisexy story bhaibhai behan ki chudai kididi ki chutmosi ko choda10 saal ki bahan ko chodachudaie ki kahaniनौकरानी की चुदाईseal tod chudaiboor chudai storymeri kahani sexsex stori hindimeri gaandhindi sex story bhabhi devarkamuk kathahindi sec storiesgand ka majasexy story by hindiकहानी चुदाई कीsex stroy hindisneha sex storiesbahan ki chudai ki storyhindi sax sitorisax story hindisamuhik sexhindi sex story 2015gandi gandi kahaniyasexy story in hindeसेक्सी हिन्दी कहानीstories sex hindiristo me gandi kahaniyabhabhi ki sexy story in hindidesi sex kahaniyandoctor ke sath sexbahan ki chutnazriya sex storylatest new hindi sex storybhai ne choti behan ko chodasafar mai chudaisex hinde khaniboobs story hindiमुझे चुदने की बेताबी होने लगीsex kahani in hindi comsex story in hindi photoaunty ko choda hindi